WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

किसान समृद्धि केंद्र क्या हैं, इनसे क्या लाभ है ?

इस पोस्ट में हम जानेंगे कि किसान समृद्धि केंद्र क्या होते हैं, और यह किसानों के लिए कैसे उपयोगी है। किसान समृद्धि केंद्र (PM Kisan Samriddhi Kendra) किस लिए बनाए गए हैं, और इनमें किसानों को किस प्रकार की सुविधाएं मिलती है।

किसान समृद्धि केंद्र क्या है – Kisan Samriddhi Kendra

किसान समृद्धि केंद्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसान को उन्नत बनाने और खेती से जुड़ी चुनौतियों को आसान बनाने के लिए खोले गए हैं।

किसान भाइयों आपको बता दें कि इन समृद्धि केंद्र पर वन नेशन वन फर्टिलाइजर स्कीम (One Nation One Fertilizer Scheme) के तहत किसानों को उर्वरक, खाद, बीज, कीटनाशक एवं खेती में प्रयोग आने वाली कई मशीनरी उपलब्ध होगी।

किराए पर मशीनरी एवं मिट्टी परीक्षण

किसान यहां पर खेत में काम आने वाली मशीनरी को किराए पर भी ले पाएंगे और साथ ही इन समृद्धि केंद्र से किसान भारत ब्रांड का फ़र्टिलाइज़र (Bharat Brand Fertilizer) भी खरीद सकेंगे।

इसके अलावा इन समृद्धि केंद्र पर किसान अपने खेतों की मिट्टी का परीक्षण (Soil Testing) भी करवा सकेंगे।

इसे पढे – IFFCO जल्द लॉन्च करेगी नैनो DAP जाने कीमत

किसान जागरूकता अभियान चलेंगे

इसके अलावा यहां पर किसान को जागरूक बनाने के लिए 15 दिन में अभियान भी चलाएं जाएंगे और यह किसान समृद्धि केंद्र मंडियों के आसपास बनाए जाएंगे जहां पर किसान कि पहुंच आसानी से हो सकेगी।

kisan-samriddhi-kendra

किसान समृद्धि केंद्र की जरूरत क्यों ?

एक किसान को खेती के समय कई चीजों का ध्यान रखना पड़ता है, जैसे कि बुवाई के लिए बीज उच्च गुणवत्ता का हो फसल में सही समय पर खाद एवं बीज हो मिट्टी का परीक्षण किया जाए जिससे उर्वरक की मात्रा को निर्धारित किया जा सके।

परंतु कई बार किसान सही बीज सही दाम पर न मिलने के कारण ठग लिए जाते हैं, किसानों की खेत की मिट्टी का सही परीक्षण ना होने के कारण वह खाद की सही मात्रा खेत में नहीं डाल पाते हैं, जिससे कि फसल पर उसका गहरा प्रभाव देखने को मिलता है।

इन सभी समस्याओं को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों को PM Kisan Samriddhi Kendra की सौगात दी है।

इससे किसानों को खेती में फायदा प्राप्त होगा और यहां पर किसान कई तरह के के लाभ ले सकेंगे।

किसान समृद्धि केंद्र की शुरुआत

17 अक्टूबर को दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 600 पीएम किसान समृद्धि केंद्र का उद्घाटन किया गया।

देश में उपस्थित 330499 उर्वरक दुकानों को किसान समृद्धि केंद्र में बदला जाएगा, जहां पर किसानों को खाद, बीज, कृषि उपकरण, और मिट्टी परीक्षण जैसी सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

इन कृषि केंद्रों पर किसानों को कृषि उपज बढ़ाने के लिए एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, कृषि विज्ञान केंद्र, और कृषि सेवा केंद्र द्वारा खेती संबंधी नई जानकारी दी जाएगी, जिससे की किसान और अधिक जागरूक बनेंगे।

सभी किसान साथ इसका लाभ उठा पाएंगे।

केंद्र सरकार के अधिकारियों द्वारा बताया गया है, कि – यह योजना भारत के हर किसान के लिए है। कोई भी किसान किसी भी केंद्र पर जाकर सरकार द्वारा प्रदान की जा रही सेवाओं का लाभ ले सकेगा।

वहां पर मिट्टी की जांच करवा सकेंगे और इन केंद्रों के खुल जाने के बाद किसान को खेती से जुड़ी वस्तुओं के लिए इधर-उधर नहीं जाना पड़ेगा।

दुर्घटना बीमा का लाभ भी मिलेगा

किसान समृद्धि केंद्र पर आने वाले किसानों को उर्वरकों के लिए दुर्घटना बीमा भी प्रदान किया जाएगा।

इसके लिए इसको कंपनी के द्वारा खाद उर्वरक की बोरी पर 4 हजार रुपाये का दुर्घटना बीमा दिया जाता है, इस दुर्घटना बीमा को प्राप्त करने के लिए किसान को उर्वरक खरीदने के बाद उसका पक्का बिल लेना होता है।

वहीं अन्य किसान से जुड़ी दुर्घटनाओं के लिए दुर्घटना बीमा के तहत 1 लाख रुपये तक का बीमा कवर किसानों को प्रदान किया जाता है।

किसान समृद्धि केंद्र पर और कौन सी सुविधाएं होगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आने वाले समय में किसान समृद्धि केंद्रों पर और कई प्रकार की सुविधाएं भी किसानों को प्रदान की जाएंगे जैसे कि ड्रोन की सुविधाएं जिनका लाभ किसान उठा पाएंगे।

यह सभी सुविधाएं किसान को एक छत के नीचे इन केंद्रों पर प्राप्त हो सकेगी यह केंद्र किसान के काम को आसान बनाने और साथ ही किफायती सेवा प्रदान करने में सहायक होंगे।

यह भी जाने – मोबाइल से राशन कार्ड कैसे बनाएं | Ration Card Apply Online


1 thought on “किसान समृद्धि केंद्र क्या हैं, इनसे क्या लाभ है ?”

Leave a Comment

ऐप खोलें