WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

गाँव में ही उपलब्ध होगी खाद कृषि मंत्री कमल पटेल का ऐलान

मध्य प्रदेश के किसानों के लिए अच्छी खबर है, मध्यप्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किसानों के हित में बड़ा निर्णय लेते हुए उर्वरक वितरण की सेवा अब किसानों को उनके घर उपलब्ध करायेगी।

मंत्री कमल पटेल ने कहा कि पर्याप्त मात्रा में खाद मौजूद, चिंता की जरूरत नहीं, प्रदेश में 4 लाख मीट्रिक टन से अधिक खाद उपलब्ध है।

मध्यप्रदेश में किसानों के लिए प्रदेश सरकार ने उर्वरक की उपलब्धता को ओर सरलीकृत करते हुए बड़ी राहत प्रदान की है।

घर पहुंच सेवा क्या है ?

किसानों की व्यवहारिक समस्याओं को देखते हुए सरकार गाँव में खाद उपलब्ध कराएगी। वही कृषि विभाग में 4 हजार 361 पदों पर भर्ती होगी ।

उपरोक्त योजना की जानकारी देते हुए मध्य प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री एवं किसान नेता कमल पटेल ने बताया कि सरकार ने किसानों के लिए इस सरलीकृत योजना का नाम घर पहुंच सेवा रखा है।

पढे – अब किसान के खाते में दी जाएगी खाद के लिए सब्सिडी

पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध

कृषि मंत्री  कमल पटेल ने कहा है कि – प्रदेश में प्रतिदिन 10 रैक खाद आ रही है। जिलों को पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध कराई जा रही है।

इस वर्ष में 21 नवम्बर तक 36 लाख 63 हजार मीट्रिक टन खाद प्राप्त हो चुका है। गत वर्ष इसी अवधि में नवम्बर तक 29 लाख 13 हजार मीट्रिक टन खाद की आपूर्ति हुई थी।

डिफाल्टर और अऋणी किसानों को नगद में खाद उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है। किसानों को खाद के लिये लाइन में लगने की जरूरत नहीं पड़ेगी। गाँव में ही खाद का ट्रक पहुँचाया जायेगा।

मंत्री कमल पटेल ने किसानों से की अपील

मंत्री कमल पटेल ने किसानों से अपील की है कि – उन्हें घबराने की कोई जरूरत नहीं है, प्रदेश में खाद की उपलब्धता है और सभी किसान भाइयों को सरकार अब उनके घर पहुंच (गांवो में) कर खाद यूरिया का वितरण करेगी।

ताकि किसान भाइयों को डीजल खर्च, लंबी-लंबी लाइनों मे लगने के साथ-साथ समय की भी बचत होगी।

क्योंकि लगातार खबरें आ रही हैं कि – राज्य में खाद की किल्लत है और किसानों तक खाद आसानी से नहीं पहुंच पा रहा है।

ऐसे में राज्य सरकार द्वारा लिया गया ये फैसला किसानों की खाद समस्या को दूर कर सकता है।

हेल्पलाइन नंबर जारी

उन्होंने कहा कि खाद वितरण के लिये POS मशीनों की व्यवस्था कर दी गई है। खाद की कोई कमी नहीं है।

असुविधा होने पर किसानों का सच्चा साथी- “कमल सुविधा केन्द्र” के दूरभाष क्रमांक- 0755-2558823 पर शिकायत कर सकते हैं। तत्काल व्यवस्था की जायेगी।

इसे पढे – डीएपी (DAP) तथा एनपीके (NPK) में बेहतर कौन है ?


Leave a Comment

ऐप खोलें