WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

किसान के बेटे ने बनाई जमीन से प्याज निकालने की मशीन

32 छात्रों के साथ मिलकर बनाई मशीन

मध्यप्रदेश जिला धार के ग्राम पचखेड़ा के किसान के बेटे ने जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru Agricultural University) के कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय जबलपुर के करीब 32 छात्रों के साथ मिलकर प्याज निकालने की मशीन को बनाया है, इस मशीन की मदद से जमीन से प्याज निकालने में आसानी होगी ।

राष्ट्रीय स्तर पर बेस्ट डिजाइन अवार्ड से सम्मानित

प्याज कटाई में बड़ी समस्या के साथ मजदूरों की परेशानी से जूझना पड़ता है, मशीन निर्माण की प्रक्रिया लंबे समय से चल रही थी, जो अब पूर्ण हुई है । उक्त मशीन एक लाख 50 हजार रुपये की लागत से तैयार की गई है।

टीम को राष्ट्रीय स्तर पर 17 जुलाई को बेस्ट डिजाइन अवार्ड (Best Design Award) से भी सम्मानित किया गया था । इस दौरान टीम को 25 हजार रुपये तथा शील्ड भेंट की गई थी।

pyaj khudayi ki machine

इसे पढे –पैडी राइस ट्रांसप्लांटर सब्सिडी पर लेने के लिए आवेदन करें

छात्र द्वारा जानकारी दी गयी

मनावर तहसील के ग्राम पचखेड़ा के छात्र पंकज पाटीदार ने बताया कि – यह मशीन 32 छात्रों की टीम ने बनाई है, जो आठ हार्स पावर से चलती हैं, और एक घंटे में तीन हेक्टेयर में प्याज निकाल सकती है।

इस मशीन को तैयार करने के पश्चात प्रतियोगिता में आकलन किया गया था –

  • जिसमें खोदाई की क्षमता 91.3 प्रतिशत तक रहेगी ।
  • कम समय मे अधिक काम कर सकती है।
  • यह मशीन आने वाले समय में किसानों के लिए बहुत ही लाभदायक होगी ।
  • इस प्रकार की मशीन से किसान को खेती कार्य करने में मजदूरों की बचत होगी ।
  • समय पर फसल निकालने से वह खराब भी नहीं होगी ।
  • प्याज की फसल के सही दाम मिलेंगे ।

कुलपति की प्रेरणा से मशीन निर्माण किया

अधिकांश क्षेत्रों में मजदूरों की समस्या होने पर किसान समय से फसल नहीं निकाल पाते हैं, अब यह मशीन उनके लिए फायदेमंद रहेगी। छात्रों ने बताया कि – विवि के कुलपति डा. प्रदीप कुमार बिसेन की प्रेरणा से इसका निर्माण किया गया है।

प्याज कटाई मशीन (onion harvesting machine) निर्माण में योगदान देने वाले टीम के सदस्य हर्षिता चौबे, सचिन पटेल, आकर्ष उपाध्याय, युवराज पाटीदार, साहिल यादव, पंकज पाटीदार आदि छात्र-छात्राएं हैं।

do-weeding-with-kono-weeder-machine-know-the-price
mp-mandi-bhav-whatsapp-group

Leave a Comment

ऐप खोलें