WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

MP में महिलाएं भी करेंगी धान खरीद केंद्रों का संचालन

PMFBY: किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का फायदा बताने के लिए प्रचार रथ गांवों में रवाना. 31 दिसंबर 2021 को है योजना में शामिल होने की अंतिम तारीख.

सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा है कि धान खरीद (Paddy Procurement) केंद्रों का संचालन स्वयं सहायता समूह की सदस्य महिलाएं (Womens) भी करेंगी.

डॉ. भदौरिया ने बुधवार को होशंगाबाद जिले के बज्जरवाड़ा गांव में धान खरीदी केंद्र के तौल-कांटे का पूजन कर खरीद की शुरुआत करते हुए यह बात कही. उन्होंने कहा कि –

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशा के अनुसार महिला स्वयं सहायता समूहों को बढ़ावा देने के लिए खरीद केंद्रों का दायित्व सौंपा जा रहा है.

भदौरिया ने कहा कि हमारी माताएं-बहनें खरीद केंद्रों पर खरीद गतिविधियों को संचालित करेंगी. बाबई नगर के पास ग्राम बज्जरवाड़ा में धान खरीदी केंद्र का संचालन जय दुर्गे महिला स्व-सहायता समूह द्वारा किया जाएगा.

धान खरीदी केंद्र के शुरुआत कार्यक्रम में सोहागपुर के विधायक विजयपाल सिंह, स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष ममता साहू, सचिव राजकुमारी और अन्य स्थानीय जन-प्रतिनिधि मौजूद रहे.

फसल बीमा का प्रचार रथ रवाना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) में ज्यादा से ज्यादा किसानों को शामिल करने के लिए बुधवार को मध्य प्रदेश सरकार ने अलग-अलग जगहों से प्रचार रथों को रवाना किया.

इनके माध्यम से किसानों को इस योजना के फायदे गिनाए जाएंगे. लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य-मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव ने अशोक नगर कलेक्ट्रेट परिसर से तीन रथों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

यादव ने बताया कि सभी रथ जिले में घूम कर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की जानकारी किसान भाईयों को देंगे.

यादव ने कहा कि कृषकों तक फसल बीमा योजना की जानकारी पहुंचने से वह योजना का लाभ लेंगे. किसानों को फसल बीमा योजना से क्या फायदें होंगे और कृषक इससे कैसे लाभन्वित हो सकते हैं,

यह पूरी जानकारी रथ के माध्यम से जिले के किसानों को दी जाएगी. सरकार 52 प्रचार-रथों के जरिए पूरे प्रदेश में इसका प्रचार कर रही है. योजना में शामिल होने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2021 है.

अब हरदा जिला होगा शत-प्रतिशत सिंचित क्षेत्र

मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल दावा किया है कि हरदा शत-प्रतिशत सिंचित क्षेत्र (Irrigated Area) वाला जिला बनेगा. उनके मुताबिक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज नर्मदा घाटी विकास विभाग की नियंत्रण मंडल की 72 वीं बैठक की अध्यक्षता करते हुए हरदा को सिंचित बनाने की दिशा में सभी आवश्यक कदम उठाने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं.

पटेल ने बताया कि मुख्यमंत्री चौहान द्वारा बैठक में दिए गए निर्देश के बाद जिले की लंबित सिंचाई परियोजनाओं का काम शीघ्र ही पूरा हो सकेगा. हरदा जिला अब सिंचाई में भी नंबर वन बनेगा.

उन्होंने खुशी जाहिर की कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के क्रियान्वयन में नंबर वन बनने के बाद अब हरदा जिला सिंचाई के क्षेत्र में भी नंबर वन हो जाएगा.


Leave a Comment

ऐप खोलें