WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

देखता रहा किसान सामने जलती रही फसल देखें VIDEO

महाराष्ट्र के बीड जिले में गन्ने के खेत में भीषण आग लगाने से किसानों की 10  एकड़ गन्ना की फसल  पूरी तरहा से जलकर राख हो गया,जिससे किसानों को लेखों का नुकसान हो गया हैं।

महाराष्ट्र में किसानों की मुसीबत खत्म होने का नाम ही नही ले रही हैं। जंहा पहले बेमौसम बारिश के कारण किसानों की फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो गयी जिसके चलते किसान परेशानी में तो थे ही तो वही अब बीड जिले के वडवानी तहसील के काडीवड गांव में गन्ने की खेत मे बिजली की तार टुटने से हुए शॉर्टसर्किट के कारण आग लगने से 10 एकड़ खड़ी गन्ने की फसल पूरी तरह से जलकर राख हो गई.जिससे किसानों लाखों का नुकसान हुआ है।

fierce fire in farmer s sugarcane 1

बीड जिले के वडवानी तहसील के काडीवड गांव में अलग अलग किसानों की 10 एकड़ खड़ी गन्ने की फसल जलकर खाक हो गयी हैं,10 एकड़ में किसान रामेश्वर अच्युतराव बादाडे, एकनाथ शेषराव बादाडे और महारुद्र दत्तात्रय राऊत इनके खेत में सुबह सुबह आग लगने से लाखों रुपयों का नुकसान हो चुका हैं किसानों का कहना हैं बिजली की तार टुटने से हुए शॉर्टसर्किट के कारण भीषण आग लगी हैं।

खेतों में आग देखते ही पड़ोसी किसानों ने आग बुझानी की कोशिश की लेकिन आग इतने बड़े पौमने पर लगीन थी की उसे बुझाना पाना मुश्किल हो रहा था।

जिस कारण पूरी गन्ने फसल जलकर बर्बाद हो गई. इस हादसे के पीड़ित किसानों ने महावितरण MSEB विभाग को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा की प्रशासन इस नुकसान की भरपाई जल्दी ही दे।

जिला अध्यक्ष श्रीराम बादाडे ने क्या कहा

इस मामले को लेकर मनसे के जिला अध्यक्ष श्रीराम बादाडे
महावितरण विभाग को चेतावनी देते हुए कहा कि जिले में जितने भी बिजली की तार जो लटक रही है उसे जल्द से जल्द ठीक करें नही तो मनसे अपनी स्टाइल से आंदोलन करेगी।

पहले भी शॉर्टसर्किट के कारण गन्ने खेत मे लगी थी आग

महाराष्ट्र के लातूर जिले में 10 दिन पहले ही एक किसान के2 एकड़ जमीन में गन्ने के खेत में आग लगने से लाखों रुपये की फसल बर्बाद हुई थीं।

जिसमे पीड़ित किसान ने कहा था की MESB की बिजली की 33 KV लाइन उनके गन्ने खेत से हो कर जाती हैं जिसके कारण ये शॉर्टसर्किट का हादसा हुआ.जिसके बाद किसान ने MESB की लापरवाही बताते हुए जिले के एमपी को निवेदन देकर MESB पर कारवाई कर भरपाई देने की मांग की थी।


सोर्स


Leave a Comment

ऐप खोलें