WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

खेती में कुछ नया करने वाले किसानों को मिलेगा सम्मान

खेती-किसानी में कुछ नया और बेहतर करने वाले किसानों की तलाश पूसा संस्थान कर रही है, उन्हे संस्थान द्वारा सम्मानित भी किया जाएगा इसके लिए किसान को आवेदन कर संस्थान को अपना नया काम बताना होगा। आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको एक ऐसी संस्था के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कि आपको आपकी खेती करने के नए अंदाज को सम्मानित करती है।

जो भी किसान खेती के लिए कुछ हटके खेती करते हैं, और इससे अन्य किसानों को भी प्रेरणा मिलती है, और वह भी इस प्रकार की खेती करने के लिए आगे बढ़ते हैं, तो ऐसे किसानों को पूसा संस्थान द्वारा सम्मानित किया जाता है।

इसमें आपको अपना सम्मान पाने के लिए पूसा इंस्टीट्यूट के इनोवेटिव फार्मर (Innovative Kisan Awards 2023) और फेलो फार्मर अवॉर्ड (Fellow farmer award) के लिए आवेदन करना होता है, जिससे आपको इस संस्था के द्वारा सम्मानित किया जाता है।

किसानों के लिए फेलो फार्मर अवॉर्ड

हमारे देश में प्रत्येक व्यक्ति को भोजन प्राप्त हो इसके लिए किसान दिन-रात अपने खेतों में मेहनत करके फसल उगाता है, ऐसे में यदि उन्हें किसी संस्था के द्वारा सम्मानित किया जाए तो उनका मनोबल और भी बढ़ता है, और असल में वे इस सम्मान के हकदार भी होते हैं।

इसी को देखते हुए भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान(ICAR_IARI) ने देश के कुछ ऐसे किसानों को जोकि खेती के लिए कुछ हटके काम करते हैं, उनके लिए यह अवार्ड देना शुरू कर दिया है। जिसमें की देश के हर एक कोने में रहने वाले तथा अपनी खेती या पशुपालन में कुछ अलग काम कर बड़ा मुकाम हासिल करने वाले किसानों से यहां पर आवेदन मांगे जाते हैं और फिर उन्हें पूसा संस्थान द्वारा आयोजित कृषि विज्ञान सम्मेलन जोकि 3 से 4 मार्च को होता है, उसमें इन किसानों को पुरस्कृत कर सम्मानित किया जाता है।

इस भी पढे – गोबर से बनाया जा रहा पुताई के लिए पेंट जाने कीमत

अवॉर्ड के लिए आवेदन कैसे करें

यदि आप भी इस प्रकार का कोई अलग काम करके किसी बड़े मुकाम पर पहुंचे हैं, तो आप भी सम्मान पाने के हकदार है। इसलिए आज हम आपको इस योजना में कैसे आवेदन करें इससे जुड़ी सभी जानकारी यहां पर उपलब्ध कराएंगे जिससे कि आपको आपका सम्मान मिल सके।

इसमें आवेदन करने के लिए आपको किसी बड़ी सिटी या राज्य से होने की कोई आवश्यकता नहीं होती है। यदि आप भारत के निवासी हैं, और भारत के किसी भी कोने में रहते हैं तो आप इसमें आवेदन करने के पात्र होंगे।

इसके लिए आपको एक फॉर्म के साथ अपनी पासपोर्ट साइज फोटो लगाकर इसे कृषि, बागवानी या पशुपालन अधिकारी के पास ले जाकर इस फॉर्म को सर्टिफाइड कराना होगा।

इतना हो जाने के बाद आपको भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के संयुक्त निर्देशक के पास 31 जनवरी तक इस फार्म को भेज देना है।

इस फार्म में अब आप जिस भी व्यवसाय से जुड़े हैं, उसके अधिकारियों द्वारा आपकी प्रशंसा में कुछ ना कुछ लिखा हुआ होना चाहिए, तभी आपका यह फार्म मान्य होगा और आप चाहें तो अपने फॉर्म की हार्ड कॉपी को पोस्ट करने के बाद भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के संयुक्त निदेशक (प्रसार) की ई-मेल आईडी ([email protected]) पर भी इस फार्म की कॉपी को स्कैन कर भेज सकते हैं।

आवेदन फॉर्म में क्या-क्या लिखना होता है?

यदि आप भी इस संस्थान के द्वारा सम्मान पाना चाहते हैं, तो इसके लिए सबसे पहले आपको अपने फार्म में अपने व्यवसाय से जुड़ी जमीन की संपूर्ण जानकारी देनी होती है।

उसके बाद आपको इस फार्म में यह भी लिखना होता है, कि आप जिस प्रकार की खेती कर रहे हैं, जैसे मछली पालन मुर्गी ,पालन पशुपालन या कृषि मशीनरी या कोई तकनीकी काम कर रहे हैं, तो इसके लिए आप किस प्रकार से इसकी खेती कर रहे है , इसे करने की क्या तकनीक है तथा यह आपको कितना लाभ दे रही है, इससे संबंधित बातें भी यहां पर आपको बतानी होती है।

साथ ही साथ आप किसी प्रकार की कोई प्राकृतिक खेती कर रहे हैं, या फिर कोई पारंपरिक खेती कर रहे हैं, जिसमें कि आपने कोई नया अविष्कार किया है, या फिर आप किसी पुरानी तकनीक को अपनाकर इस खेती को बड़े ही आसानी से कर पा रहे हैं इससे जुड़ी जानकारी भी आपको इस फार्म में भरनी होती है।

किसान यह डिटेल्स दे

इसके पश्चात आप उस खेती को भविष्य में और कैसे आगे बढ़ा सकते हैं, और इससे आप कितना मुनाफा कमा सकते हैं, और इसमें कितनी लागत लगती है, इन सभी बातों से संबंधित डिटेल्स भी आपको यहां पर देनी होती है।

किसानों के चयन की प्रोसेस

इनोवेटिव फार्मर अवॉर्ड और फेलो फार्मर अवॉर्ड के लिए कोई भी किसान आवेदन कर सकते हैं, परंतु इसके लिए आप जिस व्यवसाय से जुड़े हैं उसके अधिकारियों के द्वारा आपकी प्रशंसा कर इस अवार्ड को प्रदान करने के लिए थोड़ी सी सिफारिश की जानी चाहिए तभी आपको पूसा संस्थान के द्वारा इस प्रकार के अवार्ड के लिए चयनित किया जाएगा।

इसके लिए आप अपने देश के कुछ अधिकारियों जैसे भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के संस्थानों के निदेशक, कृषि उत्पादन आयुक्त या सचिव, बागवानी, पशुपालन, मात्स्यिकी, रेशम विभाग के निदेशक, राज्य सरकार के कृषि,राज्य कृषि विश्वविद्यालय के कुलपतियों से भी संपर्क कर सकते हैं।

इन बातों का रखें खास ध्यान

पूसा संस्थान इनोवेटिव फार्मर अवॉर्ड और फेलो फार्मर अवॉर्ड कैटेगरी के लिए पूसा संस्थान को देशभर में से ऐसे 25 किसानों की तलाश है जिन्होंने खेती में कुछ नया करके एक बड़ा ही मुकाम हासिल किया है। यदि आप भी इसमें आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अपने फार्म में कुछ ऐसी बातें भरनी होंगी जो कि दूसरों के फार्म से थोड़ी हटके हो।

पूसा संस्थान के द्वारा चुने जाने पर क्या होगा ?

इसके बाद में यदि आप पूसा संस्थान के द्वारा इस आवेदन में चयनित हो जाते हो तब आपको पूसा कृषि विज्ञान सम्मेलन जोकि 2 से 3 मार्च 2023 में होने वाला है, उसमें आपको आमंत्रित किया जाएगा और अपने व्यवसाय में किए गए अलग कार्य के लिए आपको यहां पर अवार्ड देकर सम्मानित किया जाएगा।

इस संस्थान का मुख्य उद्देश्य कृषि के क्षेत्र को बढ़ावा देना है । सभी किसानों को कृषि के क्षेत्र में ही कुछ बड़ा करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

यह अवार्ड किसानों के आत्मसम्मान को बढ़ावा देगा और अन्य किसान भी उन्हें देखकर इस तरह का काम करने के लिए प्रेरित होंगे जिससे कि कृषि के क्षेत्र में उन्नति और प्रगति होगी।

ध्यान दे – इस खबर में दी गई कुछ जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स पर आधारित है, किसान भाई किसी भी सुझाव को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें।

इसे पढे – टॉप 5 सरकारी ऐप – Top 5 Government Apps


2 thoughts on “खेती में कुछ नया करने वाले किसानों को मिलेगा सम्मान”

Leave a Comment

ऐप खोलें