WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

भारत से गेहूं निर्यात में मध्यप्रदेश बना नंबर 1

60 लाख क्विंटल गेहूं निर्यात किया गया

मंडी बोर्ड के प्रबंध संचालक श्री विकास नरवाल की मेहनत रंग लाई लगभग 60 लाख क्विंटल गेहूं विभिन्न देशों में निर्यात कर मध्य प्रदेश का मान बढ़ाया । गेहु ने MP को एक ब्रांड के रूप में स्थापित करने में महती भूमिका निभाई म.प्र. शासन द्वारा गेहूं निर्यात की नोडल एजेंसी मंडी बोर्ड को बनाने के बाद युवा और ऊर्जावान IAS ऑफिसर विकास नरवाल द्वारा अपनी कुशल रणनीति के साथ अपने अधिकारी कर्मचारियों के सहयोग से गेहूं निर्यात (Wheat Export) में मध्य प्रदेश का स्थान पूरे राष्ट्र में पहले नंबर पर स्थापित किया है।

Wheat Export मे एमपी प्रथम तो गुजरात का है दूसरा स्थान

निर्यात नीति लागू होने के उपरांत भारत से कुल निर्यात लगभग 1.50 करोड़ क्विंटल गेहु निर्यात हुआ, जिसमें सर्वाधिक लगभग 60 लाख क्विंटल गेहूं निर्यात किया, जो कि कुल निर्यात का 40.66 प्रतिशत है । लगभग 41 लाख क्विंटल गेहूं निर्यात कर गुजरात दूसरे स्थान पर है ।

गुजरात से निर्यात किये गए गेहूं की मात्रा में एक बड़ा भाग मध्य प्रदेश में उत्पादित गेहु का है । तीसरे स्थान पर पश्चिम बंगाल इसके बाद उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब आदि राज्य हैं ।

wheat

योजना बनाकर हुआ निर्यात

मुख्यमंत्री के आदेशानुसार मध्य प्रदेश निर्यात प्रकोष्ठ के प्रभारी अधिकारी श्री नरवाल द्वारा लगातार अपनी कड़ी मेहनत से गेहु निर्यात को एक मिशन के रूप में लेकर कार्य किया । सामंजस्य स्थापित कर विभिन्न एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों से सतत बैठक कर उनसे जीवंत संपर्क स्थापित कर निर्यात की कार्रवाई को अग्रणी बनाया है, जिसमें रेलवे के साथ विशिष्ट रूप से योजना तथा रणनीति बनाकर गेहूं निर्यात को अंजाम दिया है।

मध्य प्रदेश में तत्काल निर्यात के लिए प्रोत्साहन नीति को लागू किया, मध्य प्रदेश के लगभग 2000 व्यापारियों को निर्यातक के रूप में पंजीबद्ध किया गया, ई-अनुज्ञा पोर्टल को निर्यात की विभिन्न गतिविधियों के संचालन के लिए सुदृढ़ किया तथा मंडी बोर्ड में निर्यात सेल को स्थापित कर समस्त अधिकारी/कर्मचारियों को निर्यात की कार्रवाई में संलग्न किया गया।

जिसमें मुख्य रुप से अपर कलेक्टर/अपर संचालक श्री डी.के. नागेंद्र, अपर संचालक श्री चंद्रशेखर वशिष्ठ, सहायक संचालक श्री पीयूष शर्मा, स.उ.नि. श्री दीपक गोयल की महती भूमिका रही है।

मंडी बोर्ड के सात संभागों में भोपाल संभाग द्वारा उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए सर्वाधिक लगभग 41 लाख क्विंटल गेहूं का निर्यात संभाग की मंडियों से किया गया, उक्त उत्कृष्ट प्रदर्शन में भोपाल संभाग की संयुक्त संचालक श्रीमती रितु चौहान का मार्गदर्शन सराहनीय रहा ।

join-our-whtsapp-group-mkisan

इन्हे पढे – सोयाबीन की बुआई से पहले यह काम जरूर करे

सोयाबीन की ये नई किस्म है, रोग और सूखा रोधी क्षमता वाली

Source – krishakjagat


Leave a Comment

ऐप खोलें