WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

केंद्र से कीटनाशकों पर GST 5 प्रतिशत रखने की मांग

कीटनाशकों पर GTS 5 प्रतिशत रखने की केंद्र से मांग

नई दिल्ली में पिछले सप्ताह फिक्की (FICCI) द्वारा 11वें कृषि रसायन सम्मेलन 2022 का आयोजन किया गया था । यह सम्मेलन भारत में एग्रोकेमिकल क्षेत्र के विकास के लिए पुन: आवश्यक अनुकूल नीतिगत परिवर्तनों पर विचार-मंथन करने के उद्देश्य से आयोजित किया गया था।

आपको बता दे की सम्मेलन मे केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर मुख्य अतिथि के रूप मे शामिल हुए थे । अपने उद्घाटन भाषण में, उन्होंने उल्लेख किया कि – निजी क्षेत्र को आगे आना चाहिए और कृषि क्षेत्र में उर्वरकों और कीटनाशकों के उपयोग को कम करने में सरकार का समर्थन करना चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि – ‘कृषि क्षेत्र में किसानों के लिए लाभ बहुत महत्वपूर्ण है । उत्पादन में वृद्धि भी आवश्यक है।’

इन्हे भी पढे – 50 से 80 लीटर तक दूध देती है गाय की यह नस्ल

केंद्र सरकार से किया अनुरोध

श्री आर.जी. अग्रवाल, अध्यक्ष, FICCI एग्रोकेमिकल समिति और अध्यक्ष, धानुका समूह ने कहा, ‘हम सरकार से कीटनाशकों पर जीएसटी दरों को कम करने और उर्वरकों की तरह इसे 5 प्रतिशत पर लाने का आग्रह करते हैं, ताकि छोटे और सीमांत किसानों को भी लाभ हो।

वर्तमान में कीटनाशकों पर जीएसटी 18 % है, जबकि उर्वरक पर GST केवल 5 प्रतिशत है । GST लागू होने से पहले कीटनाशकों पर VAT (वैल्यू एडेड टैक्स) लगता था जो 12 फीसदी था।

gst-5-percent-on-pesticides

ऐसे कम हो सकती है कीमत

अगर हम कीटनाशकों पर GST से पहले और जीएसटी के बाद कीटनाशक की लागत की तुलना करते हैं, तो लागत में 6 % की शुद्ध वृद्धि होती है, जिसका भार किसानो द्वारा उठाया जाता है।

अगर कृषि रसायनों पर जीएसटी घटाकर 5 प्रतिशत किया जाता है, तो किसानों को कृषि रसायनों पर मौजूदा 18 प्रतिशत की GST दर की तुलना में लगभग 13 % कम भुगतान करना होगा जिससे खेती की लागत तो कम होगी ही और किसान को खेती मे लाभ भी बढ़ेगा ।

इसे भी पढे – Top 5 कम डीजल खपत वाले ट्रैक्टर जानें कीमत और फीचर्स

join-our-whtsapp-group-mkisan

Leave a Comment

ऐप खोलें