WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

अखबार की मदद से जाने बीज की अंकुरण क्षमता

बुवाई से पहले बीजों के अंकुरण क्षमता का परीक्षण करना बहुत ही आवश्यक है, क्योंकि इससे हमें यह पता चलता है, कि जिस बीज की बुवाई हम कर रहे हैं, उस बीज की अंकुरण क्षमता कितनी है।

2 से 3 दिनों में जाने अंकुरण क्षमता

बीज का अंकुरण देखने के लिए आज हम आपको एक विधि बताने जा रहे हैं, जिसके द्वारा आप 2 से 3 दिनों में ही बीज की सही अंकुरण क्षमता का पता लगा सकते हैं।

और बोई जाने वाली फसल का अच्छा उत्पादन प्राप्त कर सकते हैं, आइये इस विधि के बारे में जानते हैं…

स्वस्थ और तंदुरुस्त पौधा है जरूरी

खेती में हर एक काम बहुत सोच समझ कर करना पड़ता है, क्योंकि खेती किसान की मेहनत के साथ साथ अन्य प्राकृतिक संसाधनों पर भी बहुत अधिक निर्भर करती हैं, ऐसे में हम छोटा सभी काम सावधानी पूर्ण करें तो यह हमें लाभ ही प्रदान करेगा।

चलिए आगे हम जानते हैं, उस तकनीक के बारे में जिससे अपनाकर आप बीजों के अंकुरण क्षमता का पता कर एक अच्छा स्वस्थ और तंदुरुस्त पौधा प्राप्त कर सकते है, और इसके लिए आपको अधिक मशक्कत करने की कोई भी जरूरत नहीं है।

किसान किस तरह से करते है जाँच

पहले हम यह जान लेते हैं, कि किसान किन तरीकों के उपयोग से बीजों के अंकुरण क्षमता का पता लगाते हैं, तो इसके लिए वह सूती कपड़े और अन्य चीजों का इस्तेमाल करते हैं।

जिससे कि उन्हें अधिक समय तक इंतजार भी करना पड़ता है, और इसके बाद भी सही अंकुरण क्षमता नहीं पता चल पाती है।

इसे पढे – मध्यप्रदेश में 300 किलो प्याज बिका सिर्फ 2 रुपए में

अखबार विधि से जाने बीज की अंकुरण क्षमता

जिस तकनीक के बारे में बात कर रहे हैं, वह सस्ती तो है ही और आसान भी है, इस विधि में आपको पुराने अखबार की मदद लेनी है।

जिसके द्वारा आप बीजों के अंकुरण क्षमता के बारे में जान पाएंगे आइए इस विधि को स्टेप बाय स्टेप तरीके से समझते हैं……

स्टेप 1 : – किसान भाइयों सबसे पहले आपको एक पुराने अखबार को ले लेना है, और फिर इसे चार बार मोड कर पानी में अच्छी तरह से भिगो लेना है।

स्टेप 2 : – इसके बाद आपको जिन भी बीजों की अंकुरण क्षमता का पता लगाना हैं, उन्हें अच्छी तरह से पानी से धो कर रख ले।

स्टेप 3 : – आपके भिगोए हुए अखबार को पानी से बाहर निकले और उसे सुखाएं और फिर उसमें भिगोए हुए बीज को रखें।

newspaper-seed-germination-test

किसान भाइयों इस बात का ध्यान रखेंगे बीजों की मात्रा लगभग 50 से 100 होनी चाहिए।

स्टेप 4 : – बीजों को पेपर में रखने के बाद इस पेपर को रोल कर दें और फिर इसे पुनः पानी में डूबे दे और बाहर निकाले।

स्टेप 5 : – यह सब करने के बाद आपको इस अखबार को प्लास्टिक की थैली में रखकर किसी भी ऊंचे स्थान पर लटका देना है।

2 से 3 दिन मे आपको बीजो के अंकुरण दिखने लगेंगे, ज्यादातर इस विधि को बड़े पैमाने पर खेती करने वाले लोग अपनाते हैं, परंतु इस विधि का उपयोग आप अपने लिए भी करके देख सकते हैं।

बीजों का निरीक्षण इस तरह करें

बीज का उपयोग खेती मे करने के लायक हैं या नहीं, यह पता लगाना बेहद आसान है, इसके लिये ऊपर बताई गयी विधि से किसान घर बैठे बीजों की जांच कर सकते हैं।

हर फसल के बीज अंकुरण क्षमता अलग अलग होती है, और यह अंकुरण के लिये अलग-अलग समय लेता है जैसे हम चना के बीजों की अंकुरण की बात करे तो इन्हे अंकुरित होने के लिये 7-8 घंटे भिगोना होता है।

इसके बाद यदि 80 से 90 प्रतिशत बीजों का अंकुरण हो जाये तो बीजों की बुवाई की जा सकती है।

अच्छे बीज चुनाव के लिए इन बातों का रखें ध्यान

  • बुवाई से पहले बीजों का अच्छी तरह से निरीक्षण करना चाहिए।
  • बीजों की साफ-सफाई करे और उसमें अन्य मिलावटी वस्तुओं को अच्छे बीज से अलग कर दे।
  • किसान को प्रमाणित किस्म के बीजों का ही चुनाव बुवाई के लिए करना चाहिए।
  • उच्च गुणवत्ता वाले बीजों का बुवाई से पहले उपचार कर अंकुरण करके देखे, जिससे आपको बुवाई में किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं होगी।
join-mkisan-mandi-bhav-whatsapp-group

सोलर पैनल पर सब्सिडी लेकर करें बिजली उत्पादन


Leave a Comment

ऐप खोलें