WhatsApp Group - मंडी भाव

Join Now

बेलपत्र के फायदे कैसे करें इसका सेवन – Bel Patra

वैसे तो आप सभी ने बेलपत्र (Bel patra) का नाम सुना ही होगा यह एक ऐसी पत्ती (bel patra leaves) होती है, जिसे हम पूजा में भगवान शिव को चढ़ाते हैं, परंतु यह नहीं जानते कि यह बेलपत्र हमारे स्वास्थ्य के लिए भी कितना लाभदायक है।

इसे खाने से क्या-क्या लाभ मिलता है, तथा किन किन रोगों को दूर कर सकता हैं। इससे जुड़ी समस्त जानकारी आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से देंगे जिससे कि आप भी इस बेलपत्र को ना सिर्फ पूजा में काम ले बल्कि इसे खाकर भी इसके लाभ ले सकते हैं।

यह कई रोगों को दूर करने वाली पत्ती होती है, जिसे बच्चे से लेकर वृद्ध इंसान भी खा सकते हैं।
अब आइए आपको बताते हैं, यह बेलपत्र किन रोगों को दूर करती है, इसके क्या लाभ आपको मिल सकते हैं।

बेलपत्र के लाभ – Benefits of Bel Patra

ऐसे तो बेलपत्र के कई सारे लाभ है, उनमें से कुछ लाभों की जानकारी अभी आपको यहा बताई जा रही है।

यदि आपको केलोस्ट्रोल की प्रॉब्लम है, तो आप बेलपत्र के पत्तों का सेवन कर इसे कम कर सकते हैं।

बेल के पत्तों को सुखाकर तथा इसका चूर्ण बनाकर आप इसे गर्भनिरोधक के रूप में उपयोग में ला सकते हैं।

यदि आपके पेट मैं किसी प्रकार की कोई सूजन है, या आपके पेट से संबंधित कोई अन्य रोग हो गया है, तब भी आप इन बेल पत्रों के चूर्ण का उपयोग कर सकते हैं।

यदि आपके शरीर में कैंसर के लक्षण दिखाई दे रहे हैं, तब भी आप इस बेलपत्र के चूर्ण को खा सकते हैं, जिससे कि कैंसर की संभावना कम हो जाती है।

बेल के पत्तों को पीसकर तथा इसका जूस निकाल कर पीने से आपको डायबिटीज मैं बहुत आराम मिल सकता है।

बेलपत्र जूस पीने क्या फायदे हैं – Bel patra juice benefits

बेलपत्र एक बहुत ही ठंडा पत्र (bel patra leaf) होता है, जो कि गर्मियों के लिए बहुत ही लाभदायक माना गया है।

बेलपत्र का जूस (bel patra juice) बनाकर आप गर्मियों में इसका सेवन कर सकते हैं, जिससे कि आपको पेट से संबंधित बीमारियों तथा अन्य कई बीमारियों से राहत मिल सकती है।

बेलपत्र के अन्य फायदे

इस पोस्ट मे आपको बेलपत्र के कई फ़ायदों के बारे मे बताया गया है बेलपत्र का पेड़ कई गुणो से भरा हुआ है एक एक करके इससे होने वाले सभी फायदो के बारे मे जानेंगे।

आपकी जनकरी के लिए बता दे की बेलपत्र का फल भी होता है, जो की गोल आकार का होता है, आपको नीचे दी गयी बेलपत्र की फोटो मे यह देखने को मिल जाएगा।

ठंडक प्रदान करना

बेल का रस शरीर को ठंडक प्रदान करता है, यदि आपको बार-बार एसिडिटी की प्रॉब्लम होती है, तब आप इस बेलपत्र के जूस मैं थोड़ा सा शहद मिलाकर इसका सेवन करें इससे आपको आपकी एसिडिटी प्रॉब्लम में आराम मिलेगा।

गर्मियों के मौसम में पेट में गर्मी होने से मुंह में छाले आ जाते हैं, इनसे भी राहत पाने के लिए आप बेल के जूस का उपयोग कर सकते हैं। यह हमारे पेट में ठंडक करता है, जिससे कि पेट तथा मुंह से संबंधित बीमारियों से राहत मिल सकती है।

गर्भवती महिलाओं के लिए लाभदायक।

बेलपत्र का जूस का उपयोग ऐसी महिलाएं जिन्होंने किसी बच्चे को जन्म दिया है, परंतु उन्हें स्तनपान कराने में दिक्कत जा रही हो वह बेलपत्र का जूस पी सकते हैं, यह स्तनों का दूध बढ़ाने में सहायता करता है।

शरीर का खून साफ करता है ?

अगर आप भी चाहते हैं कि आपके शरीर में खून हमेशा साफ रहे तो आप बेलपत्र का जूस निकालकर उसमें हल्का सा गुनगुना पानी डाल ले उसके बाद उसमें कुछ मात्रा में शहद भी डाल ले।

इस प्रकार तैयार किया गया जूस आप यदि नियमित पीते हैं, तो इससे आपके शरीर में खून साफ होता है।

कब्ज से दिलाए राहत

यदि आपको बार-बार कब्ज की बीमारी होती है, तब आप इस बेलपत्र का उपयोग कैसे कर सकते हैं आइए हम बताते हैं।

  • इसके लिए सबसे पहले आप बेल के फल के अंदर का गूदा निकाल ले।
  • अब इस गुदे को ठंडे पानी में अच्छी से मसल लें तथा इसे एक गिलास में छान ले।
  • अब इस रस में मिश्री ,लोंग, इलायची ,काली मिर्च व कपूर को निश्चित मात्रा में मिलाकर इसे अच्छे से गोल ले।
  • अब आप इस शरबत का सेवन कर सकते हैं ।

जिससे कि आपको पेट से संबंधित कब्ज हो या फिर पाचन से संबंधित कोई समस्या हो पेट में जलन हो या बार-बार प्यास लगती हो आदि सभी में आपको राहत मिलेगी।

bel patra fruit

बेल के औषधिय गुण

बेल सिर्फ एक पौधा (bel patra plant) ही नहीं है, बल्कि यह कई औषधीय गुणों से परिपूर्ण है, यदि आप इस बेल के औषधीय गुणों के बारे में नहीं जानते हैं तो हम आपको इसके सारे औषधीय गुणों के बारे में बताएंगे…

जिसे पढ़कर आप भी इसका कब और कैसे उपयोग करते हैं, यह जान सकेंगे और इसका लाभ ले सकें।

दस्त दूर करने में उपयोगी

गर्मियों के मौसम में दस्त से जुड़ी समस्याएं बार-बार होती है, ऐसे में आप बेल के कच्चे फल का उपयोग कर सकते हैं आइए जानते हैं, इसके लिए आप क्या करें….

  • सबसे पहले आपको बेल के एक कच्चे फल को अच्छी से आग में इसे भून लेना है।
  • अब इसके भूने हुए फल के अंदर का गूदा कम से कम 10 से 20 ग्राम निकाल लेना है।
  • फिर इसमें निश्चित मात्रा में शक्कर मिला ले।

इस प्रकार बनाये गए औषधि को आप को दिन में तीन से चार बार खाना है, जिससे आपके पेट में ठंडक होगी और आपको दस्त संबंधित समस्या में आराम मिलेगा।

रतौंधी की समस्या में लाभदायक

यदि आपको रतौंधी की समस्या है, तब आप बेलपत्र को रात के समय पानी में भिगो दें तथा सुबह उठकर रोजाना अपनी आंखों को उस पानी से धोएं इससे आपको बहुत लाभ मिलेगा ।

  • आप 10 ग्राम बेलपत्र में 7 काली मिर्च डालकर इन दोनों मिश्रणो को अच्छे से पीस लें।
  • इसके बाद आप इसके पेस्ट को 10ml पानी में घोलकर इसे छान लें।
  • अब इसमें 25 ग्राम मिश्री डालकर उसे अच्छी से इस जुस में घोल दे।

इस प्रकार बनाये गये जूस का नियमित रूप से सेवन करने से आपको रतौंधी की समस्या से राहत मिल सकती है।

मूत्रों के रोगों से बचाने में लाभदायक

यदि आप भी मूत्र रोगों से परेशान है, तो आपको हम यहां पर कुछ विधि बताते हैं, जिसके द्वारा आप भी इन रोगों से मुक्ति पा सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको 10 ग्राम बेलगिरी लेना है तथा 5 ग्राम सोंठ लेनी है
  • अब इन दोनों मिश्रणो को अच्छी से कूट लेना है।
  • अब आपको 400ml पानी लेना है, इस पानी में इस मिश्रण को अच्छी से घोल ले।

अब नियमित रूप से सुबह-शाम इस प्रकार बनाए गए जूस का सेवन करने से आपको मूत्र रोगों से राहत मिल सकती है।

मुहांसों के लिए लाभदायक

यदि आपको चेहरे पर बहुत से मुंहासे हो गए हैं, तथा आपके चेहरे पर जलन होती है, तब आप बेल की जड़ या फिर लकड़ी को पानी के साथ घीस ले।

इस प्रकार बनाए गए पेस्ट को अपने पूरे चेहरे पर लगाएं जिससे कि आपके चेहरे पर जो जलन हो रही है, वह ठीक हो जाएगी और आपके चेहरे पर हुए मुंहासे भी ठीक होने लगेंगे।

आपने बेल के सभी फायदे तो ऊपर पड़ ही लिए हैं, आइए अब आपको इससे जुड़े नुकसान भी बताते हैं।

बेल खाने से क्या नुकसान है ?

बेलपत्र के सेवन से हमारे शरीर में उपस्थित मल कठोर होता है, तो यदि आपको कब्ज की शिकायत कठोर मल की वजह से है, तो ऐसे में आपको हम बेलपत्र ना खाने की सलाह देते हैं।

क्योंकि यदि आप इस स्थिति में बेलपत्र खाएंगे तो यह आपके शरीर में उपस्थित मल को और कठोर कर देगा जिससे कि आपको बहुत दिक्कत हो सकती है।

बाजारों में मिलने वाले बेलपत्र के जूस के नुकसान

जैसा कि आप जानते हैं बाजारों में मिलने वाले बेलपत्र के जूस में काफी मात्रा में शुगर भी मिलाई जाती है ताकि इसमें एक अच्छा सा टेस्ट ला सकें।

परंतु ऐसे में यदि आप डायबिटीज के शिकार हैं, तो आप बाजार में मिलने वाले इस प्रकार के जूस का सेवन नहीं करें तो आपके लिए बहुत ही अच्छा होगा क्योंकि इस में शुगर की मात्रा मिली होने से आपके डायबिटीज में और अधिक समस्या आ सकती है।

इस प्रकार आपको बेलपत्र से जुड़े फायदे व नुकसान दोनों ही ऊपर इस पोस्ट के माध्यम से बता दिए गए हैं। आशा करते हैं आप भी इस बेलपत्र के पौधे के उपयोग के बारे में अच्छे से जान गए होंगे साथ साथ किन कारणों से यह नुकसान दे सकता है यह भी जान गये होंगे।

join-mkisan-mandi-bhav-whatsapp-group

डेयरी प्लस योजना से मुर्रा भैंस खरीदने पर 75 प्रतिशत अनुदान

अब किसान के खाते में दी जाएगी खाद के लिए सब्सिडी


Leave a Comment

ऐप खोलें